क्या कल के फाइनल में भारतीय एथलेटिक्स को नई ऊंचाइयों पर ले जा पाएंगी ललिता!

Story By- Raman Jaiswal

  1. ललिता बाबर सोमवार को रियो ओलंपिक में जब महिला 3000 मीटर स्टीपलचेज फाइनल में उतरेंगी तो उनकी नजरें इतिहास रचने पर टिकी होंगी. महाराष्ट्र के सतारा जिले की 27 वर्षीय ललिता के लिए पदक जीतने की राह मुश्किल होगी लेकिन नामुमकिन नहीं.
  2. वह 1984 लॉस एंजिल्स ओलंपिक में पीटी उषा के बाद एथलेटिक्स फाइनल के क्वालीफाई करने वाली दूसरी भारतीय महिला हैं. ललिता 19.76 सेकेंड के राष्ट्रीय रिकॉर्ड के साथ अपनी हीट में चौथे स्थान पर रहते हुए फाइनल के लिए क्वालीफाई करने में सफल रही थी.
  3. वह सभी क्वालीफायरों में सातवें स्थान पर रही थी. अगर वह कल अपने प्रदर्शन में सुधार करती हैं तो एथलेटिक्स में भारत की नयी स्टार बनकर उभरेंगी. अब देखना होगा कि ललिता उषा के प्रदर्शन में सुधार कर पाती हैं या नहीं जो सेकेंड के सौवें हिस्से से ब्रॉन्ज मेडल जीतने से चूक गई थी.
  4. फाइनल में हालांकि ललिता को गत विश्व चैम्पियन, गत ओलंपिक चैम्पियन और सीजन में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली रनर से चुनौती मिलेगी. पिछले साल बीजिंग में विश्व चैम्पियनशिप में ललिता से आगे रही कम से कम पांच रनर कल फाइनल में हिस्सा लेंगी.
  5. विश्व चैम्पियनशिप में ललिता नौ मिनट 27.86 सेकेंड के साथ आठवें स्थान पर रही थी. कल खिताब की प्रबल बहरीन की रूथ जेबेट होंगी. वह आठ मिनट 59.97 सेकेंड के साथ सीजन में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली खिलाड़ी हैं. एशियाई खेल 2014 में जेबेट ( गोल्ड मेडल विजेता) के डिस्क्वालीफाई होने पर ही ललिता का ब्रॉन्ज मेडल सिल्वर में बदला था.

#Rio2016 #RioOlympics #IndiaAtRio #Atheletics #LalitaBabar #3000meterStepleChese #5ThingsSomething

 

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s